उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना

[2000 रुपए ] उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना | ऑनलाइन आवेदन | नगद इनाम

उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना ,Mukhyamantri Good Samaritan Yojana Uttar Pradesh, गुड समारितन योजना ,U P Good Samaritan Yojana

दोस्तों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश गुड समारितन की शुरुआत की गई है | उत्तर प्रदेश में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं के लिए राज्य सरकार द्वारा एक नई पॉलिसी बनाई गई है | जिसके तहत सड़क दुर्घटना के समय घायलों को सरकारी अस्पताल में पहुंचाने वाले लोगों को सरकार द्वारा ₹2000 की नकद पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी | जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में लोग सड़क दुर्घटना के समय घायलों को पुलिस आदि के चक्रों से बचने के लिए समय पर अस्पताल नहीं पहुंचाते हैं जिसके कारण घायल व्यक्ति की कई बार मृत्यु भी हो जाती है | लेकिन राज्य सरकार राज्य में दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए उत्तर प्रदेश गुड समारितन की शुरुआत कर रही है जिसके तहत उन्हें सहायता राशि प्रदान की जाएगी |

उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना
उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना
योजना का नाम उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना
शुरू की गई योजना  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
पुरस्कार राशि  2000 रुपए
योजना का क्षेत्र  समस्त उत्तर प्रदेश
बजट का प्रावधान  50 लाख रुपए

उत्तर प्रदेश गुड समारितन योजना

दोस्तों राज्य सरकार द्वारा इस योजना को सफलतापूर्वक जमीन पर लगाने के लिए 50 लाख रुपए की राशि आवंटित की गई है | योग्य उम्मीदवार को ₹2000 की धनराशि सड़क सुरक्षा कोष (Road safety fund) मैं से दी जाएगी | राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए सड़क हादसों के आंकड़ों को ध्यान रखते हुए वर्ष 2017 में सड़क दुर्घटना से लगभग 38,811 मामले सामने आए | जिसमें से 20142 लोगों की मौत हो गई जबकि 27507 लोग घायल हुए हैं | इसी के साथ वर्ष 2018 मैं उत्तर प्रदेश में कुल 48568 सड़क दुर्घटना के मामले सामने आए जिनमें से 22256 लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई | जबकि राज्य के 29664 लोग घायल हुए |

आज हमने आपको “गुड समारितन योजना” की जानकारी दी हमें उम्मीद है | आपको यह जानकारी पसंद आई होगी |आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *