राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

[ फ्री बिजली ] राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | जरूरी दस्तावेज

राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | राजस्थान सोलर पंप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | सोलर पंप सब्सिडी राजस्थान 2019 | सोलर पंप सब्सिडी इन राजस्थान | सोलर पंप सब्सिडी राजस्थान 2019 | राजस्थान सोलर पंप योजना

राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

दोस्तों आज हम आपको “राजस्थान

सोलर पंप वितरण योजना” की जानकारी देने जा रहे हैं | हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह बताएंगे कि किस तरह आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं और किस तरह आप योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं | योजना की शुरुआत राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे द्वारा की गई थी |लेकिन जब से कांग्रेस की सरकार राजस्थान में बनी है |इस योजना में थोड़े बदलाव राज्य सरकार द्वारा किए गए हैं | राज्य सरकार द्वारा योजना में क्या बदलाव किए गए हैं | यह हम आपको इस आर्टिकल में बता देंगे | आर्टिकल से जुड़ी अन्य जानकारियां प्राप्त करने के लिए नीचे दिए हुए हमारे इस लेख को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए |

  • योजना का नाम – राजस्थान सोलर पंप वितरण योजना
  • शुरू की योजना – राज्य सरकार द्वारा
  • योजना का लाभ – राज्य के किसान
  • शुरू करने का उद्देश्य – फ्री बिजली उपलब्ध करवाना

राजस्थान सोलर पंप योजना

दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि इस सोलर पंप योजना की शुरुआत राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा की गई थी | इस सोलर पंप के तहत राज्य के किसानों को खेती करने के लिए सोलर पंप उपलब्ध करवाए जाएंगे | जैसा कि आप सभी जानते हैं कि राजस्थान हमारे देश का बंजर एवं रेगिस्तान जैसे जमीन से भरा पड़ा है और यहां पर सारा साल सूर्य की ऊर्जा मिलती है | राज्य सरकार सूर्य की ऊर्जा का उपयोग करके सोलर ऊर्जा से चलने वाले पंप राज्य के किसानों को वितरण करने जा रही है| सोलर पंप के शुरू हो जाने पर राज्य के किसानों को बिजली का बिल से छुटकारा मिलेगा इसके साथ साथ उन्हें प्रदूषण रहित फ्री बिजली प्राप्त होगी |

राजस्थान सोलर पंप योजना के लाभ

फ्री बिजली – जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सोलर पंप सूर्य की ऊर्जा से चलेंगे जिससे की राशि की किसानों को फ्री में बिजली मिलेगी |

सोलर पंप – योजना के तहत राज्य के किसानों को सोलर पंप कृषि कनेक्शन सब्सिडी के आधार पर प्रदान किए जाएंगे |

आर्थिक लाभ – योजना के शुरू हो जाने पर राज्य के किसानों को बिजली का बिल नहीं देना होगा | जिससे कि वह पेट्रोल एवं डीजल से चलने वाले पंप से उन्हें छुटकारा मिलेगा | जिससे कि उनकी आय में वृद्धि होगी |

राजस्थान सोलर पंप योजना के लिए पात्रता

  • योजना का लाभ केवल राजस्थान राज्य के स्थाई निवासी ही ले सकते हैं |
  • यदि कोई किसान 3HP के सौर ऊर्जा कनेक्शन लेना चाहता है | तो उसके पास लगभग 0.5 हेक्टेयर भूमि होनी चाहिए |
  • अगर अन्य किसान जिसके पास 1.0 हेक्टेयर भूमि है तो वह 5 HP का सौर ऊर्जा पंप लगवा सकता है |
  • यदि कोई किसान जिसके पास ग्रीनहाउस या फिर शेडनेट है तो वह किसान 3HP अंतर के लिए हजार मीटर और 5HP मीटर के लिए 2000 मीटर की जगह होना जरूरी है |

सोलर पंप योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

  • राजस्थान स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड की कॉपी
  • किसान के पास जमीन का पर्चा
  • सिंचाई का स्त्रोत
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट

सोलर पंप योजना राजस्थान ऑनलाइन आवेदन

  • दोस्तों राजस्थान सोलर पंप वितरण योजना का लाभ लेने के लिए यहां पर क्लिक करें |
  • इस योजना के लिए पंजीकरण करवाने के लिए किसान को सामान्य कृषि कनेक्शन आवेदक निगम के संबंधित सहायक अधिकारी के कार्यालय में हजार रूप्ए जमा करवाकर आवेदन करना होगा |
  • योजना का लाभ लेने के लिए योग्य उम्मीदवारों को 40% खुद लगानी होगी और बाकी की 60 प्रतिशत राशि का बहन सरकार द्वारा किया जाएगा |
  • सौर पंप के रखरखाव के लिए 7 वर्ष तक निशुल्क निर्माता कंपनी द्वारा किया जाएगा |
  • यदि कोई कंपनी आपके सौर पंप की समय सीमा के तहत देखरेख नहीं कर रही है तो आप अपनी शिकायत उपभोक्ता अधिकारी के पास जाकर कर सकते हैं |

दोस्तों आज मैं आपको “राजस्थान सोलर पंप वितरण योजना ” के बारे में जानकारी दी हमें उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप हमसे पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का उत्तर देंगे धन्यवाद |

राजस्थान सोलर पंप सब्सिडी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | राजस्थान सोलर पंप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | सोलर पंप सब्सिडी राजस्थान 2019 | सोलर पंप सब्सिडी इन राजस्थान | सोलर पंप सब्सिडी राजस्थान 2019 | राजस्थान सोलर पंप योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *