धारा 370 का कमाल

धारा 370 का कमाल,पाकिस्तान में लगे अखंड भारत के बैनर

धारा 370 का कमाल,पाकिस्तान में लगे अखंड भारत के बैनर

दोस्तों पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में जगह-जगह अखंड भाग समर्थक के कई बहने दिखाई दिए क्षेत्र पाकिस्तानी संसद और प्रधानमंत्री आवास के कुछ सौ मीटर की दूरी पर ही शामिल है | दोस्तों आप सभी जानते ही होंगे कि भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर राज्य को दो हिस्सों में बांट दिया गया है जिसके तहत राज्य में धारा 370 को खत्म कर दिया गया है | और साथ ही साथ लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बना दिया गया है वैसे तो जम्मू कश्मीर को भी केंद्रशासित प्रदेश बना दिया गया है लेकिन इसमें विधानसभा होगी और राज्य के मुख्यमंत्री लोगों द्वारा चुने जाएंगे लेकिन राज्य की पुलिस पर अधिकार केंद्र सरकार का होगा |

धारा 370 का कमाल,पाकिस्तान में लगे अखंड भारत के बैनर

धारा 370 का कमाल
धारा 370 का कमाल

जैसा कि चित्र के माध्यम से हमने आपको बताया है कि पाकिस्तान की राजधानी में कई जगह अखंड भारत के समर्थक के बैनर लगाए गए हैं शहरों में शिवसेना के नेता संजय रावत का बयान लिखा गया है जिसमें कहा गया है कि आज जम्मू कश्मीर लिया है कल बलूचिस्तान और पीओके लेंगे मुझे भरोसा है कि देश के पीएम अखंड हिंदुस्तान का सपना पूरा करेंगे इस संबंध में पुलिस ने छापे मारकर तीन लोगों को पकड़ा है | भारत सरकार द्वारा सोमवार को जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद यहां ऐसे पोस्ट दिखाई देने से पाकिस्तान इस कदर बौखला गया है कि वहां के जिला प्रशासन ने नगर निगम को नोटिस जारी कर 24 घंटे के अंदर हटाने को कहा गया है |

पाकिस्तान में लगे अखंड भारत के बैनर

थाना प्रभारी क्षेत्र के सचिवालय के प्रभारी असद ने कहा कि उनके क्षेत्र में नहीं बल्कि दूसरे इलाकों में लगाए गए हैं यह विवादित साथ ही इन पर लिखा गया है कि पाकिस्तान और बांग्लादेश भारत का हिस्सा है इसमें शिवसेना सांसद संजय राउत की टिप्पणी भी लिखी गई है | दोस्तों हम आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति ने पाकिस्तान में लगे हुए संजय रावत जी के पोस्टर पाकिस्तान पुलिस हरकत में आई और इन सभी पोस्टों को हटा दिया गया है |

दोस्तों आज हमने आपको पाकिस्तान में लगे अखंड भारत के बैनर की जानकारी दी उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी होगी आर्टिकल से जुड़े कोई भी कमेंट आप नीचे कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *